सत्रीय कार्य जमा करने, परीक्षा आवेदन पत्र जमा करने एवं सेमेस्टर परीक्षा तिथि में विस्तार

UOI/EXAM/404/2011

विभिन्न अध्ययन केन्द्रों, क्षेत्रीय केन्द्रों एवं छात्र समुदाय द्वारा पाठ्यसामग्री प्राप्त न होने के कारण प्रथम सेमेस्टर की परीक्षा में सम्मिलित होने, सत्रीय कार्य जमा करने एवं अध्ययन हेतु समुचित समय न प्राप्त होने विषयक पृच्छाओं एवं अनुरोधों पर विश्वविद्यालय द्वारा गहन विचार-विमर्श करते हुए सत्रीय कार्य जमा करने, परीक्षा आवेदन पत्र जमा करने एवं सेमेस्टर परीक्षा तिथि निर्धारित करने में निम्नानुसार विस्तार किया गया है

1 बिना विलम्ब शुल्क के परीक्षा आवेदन पत्र जमा करने की तिथि 25-01-2011
2 रू 100 विलम्ब शुल्क के साथ परीक्षा आवेदन जमा करने की तिथि 26-01-2011 to 30-01-2011
3 सत्रीय कार्य जमा करने की अंतिम तिथि 30-01-2011
4 परीक्षा प्रारम्भ होने की तिथि 23-02-2011

इस क्रम में अवगत् कराना है कि समस्त विषयों जिनके लिए सेमेस्टर परीक्षा आयोजित की जानी है के लिए पाठ्यसामग्री क्षेत्रीय केन्द्रों के माध्यम से अध्ययन केन्द्रों को भेजी जा चुकी है। सत्रीय कार्य जमा करने की अन्तिम तिथि, परीक्षा आवेदन पत्र जमा करने की तिथि में वृद्धि तथा परीक्षा तिथियों को आगे बढ़ाये जाने के फलस्वरूप विद्यार्थियों को अध्ययन पूर्ण करने के साथ-साथ सत्रीय कार्य जमा करने एवं परीक्षा की तैयारी करने के लिए पर्याप्त समय मिल जायेगा। यहां यह उल्लेख करना भी समीचीन होगा कि पाठ्यक्रम को न्यूनतम समयसीमा में पूर्ण करने से अन्ततोगत्वा छात्र समुदाय का ही हित होता हैै। अतः अपने हितों को ध्यान में रखते हुए छात्र समुदाय प्रथम सेमेस्टर के अधिक से अधिक विषयों की परीक्षाओं में सम्मिलित हों। यहां यह उल्लेख ही सर्वथा उपयुक्त होगा कि पंजीकृत विषयों की परीक्षा न देने से न केवल पाठ्यक्रम अवधि में वृद्धि होती है अपितु आगामी पाठ्यक्रम में प्रवेश पर भी प्रभाव पड़ता है।

    विश्वविद्यालय छात्र हितों को सर्वोच्च प्राथमिकता देता है। यही कारण है कि व्यापक छात्र हितों को ध्यान में रखते हुए विभिन्न तिथियों में आवश्यकतानुसार वृद्धि कर छात्र समस्याओं को हल करने का यथासम्भव प्रयास किया गया है। आशा है छात्र समुदाय अपना सहयोग प्रदान करेगा। क्योंकि ऐसा न करने से यह सेमेस्टर या तो बहुत दीर्घ अवधि का हो जायेगा या एक सेमेस्टर को शून्य सेमेेस्टर मानने की मजबूरी होगी। प्रत्येक दृष्टि से फरवरी के अन्तिम सप्ताह में परीक्षा कराने में विद्यार्थी समुदाय का स्पष्ट हित है।

 

कुलसचिव  |  परीक्षा नियंत्रक