BAMT201

ताल शास्‍त्र
Programme: 
Bachelor of Arts BA12
Year / Semester: 
2nd Year


बी0ए0 संगीत (तबला) - द्वितीय वर्ष का पाठ्यक्रम

क्र0 सं0

कोर्स का नाम

1

ताल शास्‍त्र

प्रथम खण्ड

भारतीय संगीत का इतिहास, शब्दावली व तबले के घराने

इकाई 1 - भारतीय संगीत का इतिहास - प्राचीन काल से मध्यकाल तक।

इकाई 2 - लय , लयकारी , परन , गत , चक्करदार , नौहक्का की परिभाषा उदाहरण सहित।

इकाई 3 - देहली , अजराडा, लखनऊ, बनारस, पंजाब व फरुखाबाद घरानों का विस्तृत अध्ययन।

द्वितीय खण्ड

ताल के प्राण, जीवन परिचय एवं निबन्ध लेखन

इकाई 1 - ताल के दस प्राण ( काल , मार्ग , क्रिया , अंग, ग्रह, जाति , कला , लय , यति व प्रस्तार ) का संक्षिप्त अध्ययन।

इकाई 2 - संगीतज्ञों ( पं0 अयोध्या प्रसाद, उ0 हबीबुद्दीन खॉं, पं0 स्वपन चौधरी, पं0 कण्ठे महाराज, उ0 मसीत खॉ, उ0 जाकिर हुसैन व पं0 गामा महाराज ) का जीवन परिचय।

इकाई 3 - संगीत सम्बन्धी विषयों पर निबन्ध।

तृतीय खण्ड

ताललिपि पद्धति एवं ताललिपि में लिखना

इकाई 1 - दक्षिण भारतीय ताल पद्धति का परिचय एवं उत्तर भारतीय ताल पद्धति से तुलना।

इकाई 2 - पाठयक्रम की तालों का परिचय एवं बोल समूह द्वारा ताल पहचानना ; पाठयक्रम की तालों के ठेके, लयकारी ( दुगुन, तिगुन एवं चौगुन ) सहित लिपिबद्ध करना।

इकाई 3 - तबले की रचनाओं(पाठ्यक्रमानुसार) को लिपिबद्ध करना।

ताल - आडाचारताल, झपताल, एकताल, सूलताल व धमार