ESL01

Elementary Course in the Sanskrit Language
Code: 
ESL01
Year / Semester: 
1st Year
Objective: 

संस्कृत भाषा के व्याकरण का ज्ञान कराने के साथ-साथ दैनिक पूजापाठ, शिक्षाप्रद कथाओं व वचनों आदि का भी ज्ञान कराना।

Credits: 
8

संस्कृत भाषा का वैदिक स्वरूप।

संस्कृत भाषा का लौकिक सहज स्वरूप।

संस्कृत भाषा का लौकिक आलंकारिक स्वरूप।

संस्कृत एवम् प्राचीन ईरानी/अवेस्ता।

संस्कृत एवम् हित्ती, तोखारी, और स्लाव।

संस्कृत एवम् यूनानी/ग्रीक, इतालवी/लैटिन, और जर्मनिक।

संस्कृत एवम् पालि, प्राकृत, अपभ्रंष।

संस्कृत एवम् आधुनिक आर्य भाषयें।

संस्कृत एवम् उत्तराखण्ड की बोलियां।

वैदिक मन्त्र।

लौकिक मन्त्र।

शोडषोपचार मन्त्र।

प्रकृतिपरक स्तुति।

वैष्णव स्तुति।

शैव-शाक्त स्तुति।

न्ीतिशतकोद्धृत नीति।

महाभारतोद्धृत नीति।

विविधग्रन्थोद्धृत नीति।

पंचतन्त्र कथा - बक-कर्कोटक कथा।

चटक-कुंजर कथा।

लोहतुला वणिक्पुत्र कथा।

हितोपदेश कथा 1 - कपोत व्याध कथा।

हितोपदेश कथा 2 - व्याध पथिक कथा।

हितोपदेश कथा 3 - मृग शृगाल कथा।

Suggested Readings: 
  1. संस्कृत साहित्य का प्रामाणिक इतिहास। डा. रमाशंकर त्रिपाठी।
  2. भाषा विज्ञान - डा. कर्ण सिंह।
  3. पालि साहित्य का इतिहास - डा. भरत सिंह उपाध्याय।
  4. वैदिक वाड्.मय का इतिहास - रमाकान्त शास्त्री।
  5. नित्यकर्मपूजा प्रकाश - गीता प्रेस, गोरखपुर।
  6. स्तोत्ररत्नावली - गीताप्रेस, गोरखपुर।
  7. हितोपदेश - नारायण पण्डित।
  8. पंचतन्त्र - विश्णुषर्मा।
  9. नीतिशतक - भर्तृहरि।
  10. लघुसिद्धान्त कौमुदी - वरदराज। - मोतीलालबनारसीदास का हिन्दी में विस्तृत व्याख्या सहित।
  11. पाणिनीय शिक्षा - डा. रमाशंकर मिश्र।
  12. कर्मकाण्ड कुसुमांजलि - पं. पुरुशोत्तम शर्मा।
  13. कर्मकाण्ड भास्कर - विशालमणि शर्मा।
  14. स्तवमंजूषा - डा. ब्रह्मानन्द त्रिपाठी
  15. बृहत् स्तोत्ररत्नाकर - पं. रामतेज पाण्डेय।